तीसरा टेस्ट ड्रॉ, भारत ने की विश्व रिकॉर्ड की बराबरी

नई दिल्ली। धनंजय डीसिल्वा (119 रिटायर्ड हर्ट) और रोशन सिल्वा (74 नाबाद) की उम्दा पारियों से श्रीलंका ने भारत के खिलाफ तीसरा टेस्ट मैच ड्रॉ करवा लिया। 410 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए श्रीलंका ने अंतिम दिन दूसरी पारी में 103 अोवरों में 5 विकेट खोकर 299 रन बनाए। इसी के साथ भारत ने तीन टेस्ट मैचों की सीरीज पर 1-0 से कब्जा जमाया। विराट कोहली को मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द सीरीज चुना गया। इसी के साथ भारत ने लगातार 9 टेस्ट सीरीज जीत के विश्व रिकॉर्ड की बराबरी कर ली। इससे पहले इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया की टीमें लगातार 9 टेस्ट सीरीज जीत चुकी हैं। इंग्लैंड ने यह कारनामा 1884 से 1892 के बीच किया था। ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 2005-06 से 2008 के बीच लगातार 9 टेस्ट सीरीज जीत इस रिकॉर्ड की बराबरी की थी। अब विराट कोहली की टीम इंडिया ने इस रिकॉर्ड की बराबरी की। श्रीलंका ने मैच के अंतिम दिन सुबह 31/3 से आगे खेलना शुरू किया। एंजेलो मैथ्यूज मात्र 1 रन बनाकर जडेजा की गेंद पर रहाणे को कैच थमा बैठे। वैसे वे दुर्भाग्यशाली रहे कि वे जिस गेंद पर आउट हुए वह नोबॉल थी लेकिन अंपायर जोएल विल्सन उसे देख नहीं पाए। इसके बाद डीसिल्वा और चांदीमल ने मैच बचाने का संघर्ष शुरू किया। डीसिल्वा ने 92 गेंदों में 8 चौकों और 1 छक्के की मदद से फिफ्टी पूरी की। लंच के कुछ देर पहले जब चांदीमल 25 रनों पर थे तब जडेजा ने उन्हें बोल्ड कर दिया था लेकिन टीवी रिप्ले में यह गेंद नोबॉल निकली और चांदीमल बच गए। डीसिल्वा के साथ चांदीमल ने पांचवें विकेट के लिए 112 रनों की महत्वपूर्ण भागीदारी की। अश्विन ने चांदीमल (36) को बोल्ड कर इस साझेदारी को तोड़ा। डीसिल्वा ने 188 गेंदों में 13 चौकों और 2 छक्कों की मदद से शतक पूरा किया। यह उनका भारत के खिलाफ पहला तथा कुल तीसरा टेस्ट शतक हैं।

Leave a Comment